दर्द ही सही मेरे इश्क का इनाम तो आया Dard Love Funny Shayari

दर्द ही सही मेरे इश्क का इनाम तो आया,

खाली ही सही हाथों में जाम तो आया,

मैं हूँ बेवफ़ा सबको बताया उसने,

यूँ ही सही, उसके लबों पे मेरा नाम तो आया।

Bookmark and Share

हेल्लो दोस्तों,
यदि आप के पास इस से अच्छे जोक्स, शायरी, ग़ज़ल, कविता, सुविचार या कुछ ऐसा जिसे आप बहुत सारे मित्रो के साथ शेयर करना चाहते है तो यहाँ क्लिक करे
- धन्यवाद

मेरा एयरटेल का सिम मुझसे नाराज है,

मेरा *एयरटेल* का सिम मुझसे नाराज है,
.
बोलता है हर वक़्त मेरी सौतन
.
*जियो* के साथ मग्न रहते हो,
.
मुझे तो बस काम (इनकमिंग कॉल)के वक़्त याद करते हो।

Bookmark and Share

हेल्लो दोस्तों,
यदि आप के पास इस से अच्छे जोक्स, शायरी, ग़ज़ल, कविता, सुविचार या कुछ ऐसा जिसे आप बहुत सारे मित्रो के साथ शेयर करना चाहते है तो यहाँ क्लिक करे
- धन्यवाद

आपकी कार बहुत महंगी है ना – Hindi Jokes

एक आदमी ने देखा की एक गरीब बच्चा उस की कीमती कार को निहार रहा है।
.
उसे रहम आ गया और उसने उस बच्चे को अपनी कार में बैठा लिया।
.
बच्चा : आपकी कार बहुत महंगी है ना.?
.
आदमी : हाँ। मेरे बड़े भाई ने मुझे उपहार में दी है।
.
बच्चा : आपके बड़े भाई कितने अच्छे आदमी हैं।
.
आदमी: मुझे पता है तुम क्या सोच रहे हो। तुम भी ऐसी कार चाहते हो ना.?
.
बच्चा: नहीं, मै भी आपके बड़े भाई जैसा बनना चाहता हूँ। मेरे भी छोटे भाई बहन हैं ना..

Bookmark and Share

हेल्लो दोस्तों,
यदि आप के पास इस से अच्छे जोक्स, शायरी, ग़ज़ल, कविता, सुविचार या कुछ ऐसा जिसे आप बहुत सारे मित्रो के साथ शेयर करना चाहते है तो यहाँ क्लिक करे
- धन्यवाद

WhatsApp आया तो SMS ख़त्म

व्हाटसआप आया तो SMS खत्म
.
यू ट्यूब आये तो विडिओ खत्म
.
स्काइप आया तो ISD कॉल खत्म
.
अमेज़न आया तो बाजार की खरीदारी खत्म


.
फेसबुक आया तो रियल लाइफ खत्म
.
सबसे खास पॉइंट तो अब है………..
.
राहुल गांधी और केजरीवाल आये तो सन्ता और बन्ता खत्म

Bookmark and Share

हेल्लो दोस्तों,
यदि आप के पास इस से अच्छे जोक्स, शायरी, ग़ज़ल, कविता, सुविचार या कुछ ऐसा जिसे आप बहुत सारे मित्रो के साथ शेयर करना चाहते है तो यहाँ क्लिक करे
- धन्यवाद

पत्नी की तरफ से पति के लिए शायरी

तेरी ही बगिया में खिली तितली बन आसमां में उड़ी हूँ मेरी उड़ान को तू शर्मिंदा ना कर ए बाबूल मुझे दहेज़ देकर बिदा ना कर
तेरी ही बगिया में खिली
तितली बन आसमां में उड़ी हूँ
मेरी उड़ान को तू शर्मिंदा ना कर
ए बाबूल मुझे दहेज़ देकर बिदा ना करतेरी ही बगिया में खिली
तितली बन आसमां में उड़ी हूँ
मेरी उड़ान को तू शर्मिंदा ना कर
ए बाबूल मुझे दहेज़ देकर बिदा ना कर

.
पत्नी की तरफ से पति के लिए शायरी
.
कभी कभी मेरे दिल में
.
ये खयाल आता है
.
कभी कभी मेरे दिल में
.
ये खयाल आता है
.
जब तू रात को 11.30 बजे सो जाता है
.
तो अगले दिन सवेरे तेरा व्हाट्सएप्प
.
last seen at 2.30am क्यों बताता है

Bookmark and Share

हेल्लो दोस्तों,
यदि आप के पास इस से अच्छे जोक्स, शायरी, ग़ज़ल, कविता, सुविचार या कुछ ऐसा जिसे आप बहुत सारे मित्रो के साथ शेयर करना चाहते है तो यहाँ क्लिक करे
- धन्यवाद